अभिभावक-शिक्षक संगोष्ठी -विवेक कुमार-पद्यपंकज

अभिभावक-शिक्षक संगोष्ठी -विवेक कुमार

vivek kumar muzaffarpur

सजी है बगिया,
चहकने को तैयार,
आपके आगमन से होगा,
हमारा विद्यालय गुलजार,
इंतजार कर रही अंखियां,
करने को स्वागत और मान।

आशा और विश्वास से,
आपको किया है आमंत्रण,
पूर्व के मिथक को मिटा,
एक नई उम्मीद जगाने को,
एक अमिट संयोग बनाने को
सज गया हमारा विद्याद्वार।

NEP अंतर्गत चहक ने दिया,
बच्चों को एक नई उड़ान,
घर के माहौल सा जैसा,
प्यारा सुखद सा अहसास,
भयमुक्त माहौल ने रचा,
खेल खेल में सीखने का रोमांच।

शिक्षक बने संगी साथी,
जैसे बच्चों के लिए बाल पोथी,
गतिविधि आधारित शिक्षण से,
स्फूर्ति आया उनके तन मन में,
शिक्षण में वे ऐसे रम गए,
घर को मानो एकदम भूल गए।

चहक किट, अभ्यास पुस्तिका,
बढ़ाता क्रमिक ज्ञान है सबका,
चिड़ियां चिड़ियां उड़ती जाए,
जैसी गतिविधि से अब झूम रहे बच्चे,
हो रहा शारीरिक, मानसिक, भावात्मक विकास,
जग चुकी है गुणवत्ता की आस।

आज 20 अक्तूबर अभिभावक शिक्षक संगोष्ठी में,
बच्चों के बढ़ते कदम की चर्चा में,
सभी उपलब्ध संसाधनों का करेंगे प्रदर्शन,
नई बदली फिजाओं का कराएंगे दीदार,
बगिया के फूलों की खुशबू के दर्श कराएंगे,
बच्चों को विद्यालय भेजने हेतु आग्रह कर अभिभावक को दृढ़संकल्प बनायेगे।

सूबे के सभी गुरुजन मिल,
आज एक नया इतिहास बनाएंगे,
शिक्षा के मंदिर में नवाचार फैलाएंगे,
बाल संसद, मीना मंच सह VSS के सहयोग से,
चहक के मूल उद्देश्य को धरातल पर लायेंगे,
अभियान सफल बनाएंगे।।
विवेक कुमार
उत्क्रमित मध्य विद्यालय,गवसरा मुशहर
मड़वन, मुजफ्फरपुर

Spread the love

Leave a Reply

SHARE WITH US

Share Your Story on
info@teachersofbihar.org

Recent Post

%d bloggers like this: