जय होगी- मनोज कुमार दुबे

Manoj

आज नही तो कल तुम्हारी ही जय होगी
भाग्य नही केवल मेहनत से ही तय होगी
अंधकार का नाश प्रकाश केवल कर सकता
है मनुष्य वह साधक साध्य सभी कर सकता
केवल भ्रम में रहकर जीने से कुछ नही होगा
उठो चलों और लड़ो विजय श्री निश्चित होगा
अभिमानी को झुकना पड़ता है इस जग से
मतवाली हाथी भी डरती है चींटी के निश्चय से
जगा रहा हूं तुमको सोएं स्वप्नों में डूबे इंसान
जागत है सो पावत है सच मे बनते है वही महान

मनोज कुमार दुबे
मध्य विद्यालय बलडीहा
लकड़ी नबीगंज सिवान

Leave a Reply

SHARE WITH US

Share Your Story on
info@teachersofbihar.org

Recent Post

%d