कुमकुम कुमारी-पद्यपंकज

त्योहारों का मौसम-कुमकुम कुमारी

त्योहारों का मौसम त्योहारों का मौसम आया है चारों ओर खुशियाँ छाया है घर-आँगन को महकाया है जीवन ज्योत जलाया है बच्चे खुशी से झूम रहे हैं घर-आँगन सब फूल…

लाल बहादुर शास्त्री-कुमकुम कुमारी

  लाल बहादुर शास्त्री गरीब के वे लाल थे गरीबी के दर्द को वे समझते थे सादगी जिनकी पहचान थी ईमानदारी जिनकी जान थी देश के मंत्रियों के वे प्रधान…

बिटिया-कुमकुम कुमारी

बिटिया हे जन्मदाता, भाग्य विधाता, पूज्य पिता जनक हमारे मैं भी तेरे बागों की कलियाँ जैसे भैया हैं हमारे हमको भी चलना सिखा दो बाबा पकड़ के हाथ हमारे हे…

हिंदी हमारी संस्कृति-कुमकुम कुमारी

हिंदी हमारी संस्कृति दूसरों का अवश्य हम गुणगान करेंगे पर सर्वप्रथम खुद का हम जयगान करेंगे दूसरी भाषा का भी हम सम्मान करेंगे पर हिंदी को हम सर्वप्रथम प्रणाम करेंगे…

SHARE WITH US

Share Your Story on
info@teachersofbihar.org

Recent Post